मेघनगर आखिर मजदूर को ले लिया मौत ने

मेघनगर आखिर मजदूर को ले लिया मौत ने

मेघनगर कथा फेक्ट्री में काम कर रहे मजदुर की मोत के बाद अनेक राज खुलने लगे

झाबुआ जिले के मेघनगर में कानून कायदे को ताख में रखकर संचालित हो रही पशुपति ऑर्गेनिक्स ( कथा फेक्ट्री ) की अनियमितताएं उजागर होने लगी है मैनेजमेंट की लापरवाही के चलते मजदूर की मौत हो गई !बताया जा रहा हैं कि मजदूर कम्पनी में काम कर रहा था की अचानक उसके मुह और नाक से खून बहने लगा तो पास ही में काम कर रहे एक ओर मजदूर ने उसे पकड़ा और चिलाने लगा इतना चिल्लाने के बाद भी कम्पनी मैनेजमेन्ट से कोई भी जवाबदार अधिकारी नही आया औऱ मजदूर घटनास्थल पर एक घंटे से भी अधिक समय तक तड़पता रहा। जिससे मजदूर की मोत हो गई। अगर उस गरीब मजदुर को समय पर फैक्ट्री मैनेजमेंट द्वारा हॉस्पिटल पहुंचा दिया जाता तो शायद मजदूर की जान बच सकती थी।
लेकिन कम्पनी मैनेजमेंट तमाशा बिन बने रहै ! किसी ने भी उस गरीब मजदूर को समय पर हॉस्पिटल पहुंचाने की जहमत तक नहीं उठाई ! आखिरकर उस गरीब मजदूर ने तड़पते हुए अपने प्राण त्याग दिए ! बताते हैं कि उक्त कंपनी कत्था फैक्ट्री में केमिकल से कत्था ( गेमबियर ) जो घातक पदार्थ है उससे बनता है जानकार बताते हैं कि शायद यही वजह मौत की रही होगी जो जांच का विषय है !
गरीब मजदूर का शव कम्पनी में घंटों पड़ा रहा कम्पनी मैनेजमेंट के द्वारा इस पूरे मामले को रफा दफा करने के प्रयास मे लगे हुए थे ! लेकीन पूरा मामला मीडिया में आने के बाद प्रशासन भी हरकत में आया ओर मेघनगर पुलिस द्वारा मर्ग मुस्तफा धारा 174 में मामला पंजीबद्ध कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेघनगर लाया गया झाबुआ से फर्स्ट चीन के डॉक्टरों ने भी शव का परीक्षण किया फिलहाल मृतक के परिजनों को सुचना की गई है ! ओर मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *